22 नवंबर -2016

थैंक्सगिविंग!!!!

प्रिय पाठकों,

थैंक्सगिविंग (Thanksgiving) अमेरिका मे मनाया जाने वाला एक बहुत बड़ा राष्ट्रीय त्यौहार है. थैंक्सगिविंग का त्यौहार हर वर्ष नवंबर महीने के चौथे गुरुवार को मनाया जाता है. इस वर्ष थैंक्सगिविंग का त्यौहार 24 नवंबर को है. जैसा कि नाम से ही जाहिर है धन्यवाद देना, अब यह धन्यवाद सबसे पहले तो ईश्वर को जाता है जिसने हमें यह जीवन दिया है फिर परिवार को, दोस्तों को इत्यादि इत्यादि...

इस त्यौहार की शुरुआत के बारे में बताया जाता है कि जब सदियों पहले ब्रिटेन से लोग अमेरिका में बसने आए थे तो अमेरिका के प्रवासी नागरिकों (native Americans) ने उनकी मदद की थी यहाँ के कठोर मौसम में स्थापित होने में. प्रवासी अमेरिकन ने ब्रिटेनवासियों को यहाँ के मौसम के अनुरूप खेती इत्यादि भी करना सिखाया था. कहा जाता है कि जब पहली फसल लहलाहाई और इसकी कटाई हुई तो ब्रिटेन वासियों ने प्रवासी अमेरिकन लोगों के लिए एक भोज का आयोजन किया और उन्हे मदद करने के लिए धन्यवाद किया...बस यहीं से यह परंपरा शुरू हुई.....

अब हम क्योंकि अंतरराष्ट्रीय समाज में रहते हैं तो हम भी सभी त्यौहारों को प्रेम और सदभाव से अपने हिसाब से मानते हैं. पिछले हफ्ते हमारे एक दोस्त ने अंतरराष्ट्रीय व्यंजन समारोह के नाम से एक पौटलक (potluck) पार्टी का आयोजन किया थैंक्सगिविंग की तैयारी की शुरुआत करने के लिए........तो चलिए हम आपको इस खास त्यौहार पर कुछ खास देसी और विदेशी व्यंजनों से परिचित करते हैं. थैंक्सगिविंग के बारे में और पढ़ें.

थैंक्सगिविंग की शुभकामनाओं के साथ,
शुचि

  • apple crubmle

    सेब का क्रम्बल (apple crumble)

    सेब का क्रम्बल (apple crumble)विदेशों में एक बेहद प्रचलित मिठाई है. अमेरिका में इसे एप्पल क्रिस्प के नाम से भी जाना जाता है. सेब का क्रम्बल बनाने के लिए सेब के टुकड़ों पर आटा, चीनी और मक्खन का मिक्षण मिला कर ,चपटी जई और अखरोट जैसे सूखे मेवों से इसको सजा कर बेक करते हैं. प में ही बहुत मजेदार डिश है लेकिन आप इसे आइस क्रीम के साथ परोस सकते हैं. ये डिश बनाने में बहुत आसान है - तो आप भी अपने स्वादानुसार बनायें सेब का क्रम्बल .आगे पढ़ें..

  • apple cider

    Apple Cider-ऐप्पेल/ एपल साइडर

    ऐप्पेल/ एपल साइडर दो प्रकार के होते हैं एक आल्कोहॉलिक और दूसरा नॉन आल्कोहॉलिक. यहाँ हम नॉन आल्कोहॉलिक ऐप्पेल साइडर की बात कर रहे हैं. अमेरिका में सेब की फसल की कटाई के बाद बाजार में ऐप्पेल साइडर खूब बिकता है. वैसे अगर आपके शहर में यह साइडर ना मिले तो आप पॅल्प वाले सेब के रस का भी प्रयोग कर सकते हैं इस पेय को बनiने के लिए. आप सेब का रस घर पर भी जूसर से निकाल सकते हैं. .आगे पढ़ें..

जाड़े की ख़ासियत!

  • tehri with soy nuggets

    तहरी,सोया के साथ

    मौसमी सब्जियों के साथ तैयार की जाने वाली यह चावल की डिश उत्तर भारत में बहुत लोकप्रिय है. गुलाबी जाड़ों में ताज़ा गाजर, मटर आदि के साथ तहरी के मज़े अलग ही हैं. तहरी को कई तरीके से बनाया जाता हा. कुछ लोग तहरी में सोयाबीन की बड़ी डालते हैं, जबकि कुछ परिवारों में तहरी में मूग की दाल की मंगोड़ियों से इसे बनाते हैं, वही उड़द की डाल की बड़ी के साथ भी तहरी बहुत स्वादिष्ट लगती है. यहाँ हम ...आगे पढ़ें..

  • शाही काजू करी

    शाही काजू करी

    शाही काजू करी, जैसा कि नाम से ही जाहिर है बहुत ही शाही व्यंजन है. किसी भी और राजसी व्यंजन के जैसे इसमें भी काजू, क्रीम, मखाने इत्यादि का प्रयोग किया जाता है. अब यह चीज़ें महँगी होती हैं, शायद यही वजह है कि इन व्यंजनों को शाही व्यंजन कहा जाता है. इस शाही करी में हमने साबुत काजू, हरी मटर और मखाने डाले हैं. आप चाहेंे तो इस करी को सिर्फ़ काजू से भी बना सकते हैं. ...आगे पढ़ें..

शुचि की रसोई से ई-मेल प्राप्त करने के लिए क्लिक करें !!

बेक्ड वेज

14अक्तूबर -2016

  •  बेक्ड वेज

    बेक्ड वेज

    कॉंटिनेंटल खाना आजकल भारत में बहुत प्रचलन में है. इसमें से एक बेहद पसंद की जाने वाली डिश है बेक्ड वेज. मेरे घर में जब भी अंतरराष्ट्रीय पार्टी होती है तो मैं कम से कम एक कॉंटिनेंटल डिश ज़रूर बनाती हूँ. अब आपको यह जानकार शायद आश्चर्य हो की जहाँ हमारे विदेशी मेहमान भारतीय व्यंजनों की विधियाँ पूछते हैं वहीं हमारे भारतीय मेहमान कॉंटिनेंटल व्यंजन की. तो चलिए आज बनाते हैं दुनिया भर में मशहूर बेक्ड वेज. आगे पढ़ें..

नयी फलाहारी व्यंजन विधि- कच्चे केले की टिक्की

2 अक्तूबर -2016

  •  कच्चे केले की टिक्की

    कच्चे केले की टिक्की

    कच्चे केले में कार्बोहाइड्रेट, रेशे, विटामिन सी एवम् विटामिन बी6 प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. केले में पोटैशियम भी बहुतायत में पाया जाता है. कच्चे केले में पके केले के मुक़ाबले में बहुत कम शर्करा होती है. केले आमतौर पर सभी व्रतों में खाए जाते हैं. कच्चे केले से बने यह फलाहारी टिक्की स्वाद में तो लाजवाब हैं ही सेहत के लिए भी सही हैं. आप इन टिक्की को बहुत कम चिकनाई लगाकर तवे पर सेक सकते हैं. आगे पढ़ें..

    शुचि की रसोई से ई-मेल प्राप्त करने के लिए क्लिक करें !!

लौकी पोस्तो

20 सितंबर-2016

  • लौकी पोस्तो

    लौकी पोस्तो

    लौकी पोस्तो की यह सब्जी बहुत स्वादिष्ट होती है और सेहत के लिए तो खैर लौकी अच्छी होती ही है. लौकी, जिसे घिया, कद्दू , दूधी इत्यादि नामों से भी जाना जाता है, स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छी होती है. लौकी में तकरीबन 90% मात्रा पानी की होती है और इसमें रेशे भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं. लौकी में विटामिन सी, जिंक, औट रिबॉफ्लेविन भी पाया जाता है . इस रेसिपी के पीछे एक बहुत सुन्दर कहानी है. इस लौकी पोस्तो की रेसिपी का श्रेय मेरी एक बहुत अज़ीज दोस्त शालिनी और उसके पति आलोक को जाता है. आगे पढ़ें..

नयी विधि- बिस्किट का केक

17 सितंबर-2016

  • बिस्किट का केक

    अक्सर घर पर बहुत सारा बिस्किट का चूरा इकट्ठा हो जाता है जिसे आमतौर पर लोग फेंक देते हैं. आप इस चूरे को इस्तेमाल में ला सकते है और आप इससे स्वादिष्ट केक बना सकते हैं. मैने इस केक में ज़्यादातर रस्क का चूरा इस्तेमाल किया है. इस केक में मैने ऊपर से मक्खन और शक्कर नही डाली है जिससे यह केक खाने में बहुत हल्का है और इसमें कैलोरी भी कम हैं. तो आप भी बनाएँ यह आगे पढ़ें..

नयी विधि- गोभी मटर आलू

14 सितंबर-2016

  • गोभी मटर आलू

    गोभी आलू की सब्जी ना केवल भारत वर्ष बल्कि बाहर के देशों में भी बहुत प्रसिद्ध है. इस सब्जी को बनाना भी बहुत आसान होता है. जाड़े के दिनों में जब भारत में ताजी गोभी आती हैं तो गोभी आलू की सब्जी बनाने पर उसकी खुश्बू पड़ोस तक जाती है. गोभी मटर आलू की ख़ासियत यह है कि एक तरफ यह रोजाना में दाल-चावल और रोटी के साथ बहुत अच्छी लगती है वहीं यह पार्टी के खाने नान दाल मखानी आदि के साथ भी बहुत स्वादिष्ट लगती है.आगे पढ़ें..

नयी विधि- लोबिया के कबाब!

8 सितंबर-2016

  • लोबिया के कबाब

    शाकाहारी कबाब कई तरह के होते हैं, जैसे की, अरबी के कबाब, कच्चे केले के कबाब, पपीते के कबाब इत्यादि. यह विधि लोबिया के कबाब की है जो बनाने में तो आसान हैं ही खाने में भी बहुत स्वादिष्ट होते हैं. लोबिया पोटेशियम का एक अच्छा स्रोत है, और साथ ही साथ इसमें मैग्नीशियम और कैल्शियम भी होता है. लोबिया में और दालों के मुक़ाबले में फाइबर की मात्रा ज़्यादा होती है, और यह प्रोटीन का भी बहुत अच्छा स्रोत है. आगे पढ़ें..

नयी विधि- बैंगन का भरता !

31 अगस्त-2016

  • बैंगन भरता

    बैंगन का भरता

    बैगन का भरता उत्तर भारत का एक बहुत ही मशहूर व्यंजन है. बैंगन के भरते में बैगन को आँच पर भूनकर फिर उसे प्याज, टमाटर और मसालों के साथ पकाया जाता है. बैंगन के भरते को आप दाल चावल से लेकर किसी भी प्रकार के पूरी, पराठे और रोटी के साथ परोसा जा सकता है. वैसे तो बैंगन को आंच पर भूनते हैं लेकिन अगर आप के पास गैस का चूल्हा नही है तो आप इसे ओवेन या फिर तंदूर में भी भून सकते है.आगे पढ़ें..

नयी विधि- अदरक की चाय!

10 मई-2016

  • अदरक की चाय

    चाय भारतवर्ष में बनने वाले सभी गरम पेय में सबसे ज़्यादा प्रसिद है. वैसे तो भारत में पेय मौसम के अनुरूप होते हैं जैसे गर्मी के मौसम में ठंडा ठंडा आम का पना, नीबू की शिकंजी, मट्ठा, इत्यादि और जाड़े के मौसम में कड़ाई में पका दूध...लेकिन चाय तो सदाबहार है और इसे मौसम की सीमा में नही बाँधा जा सकता है. एक अदरक की चाय सारे दिन की थकान उतर देती है. चाय की पहचान तो अब विदेशों में भी चाय के नाम से ही होती है. यहाँ अमेरिका में भी चाय, चाय के नाम से ही जानी है हालाँकि उस चाय को पीकर तृप्ति नहीं होती है.. आगे पढ़ें..

मेथी को घर पर उगाने की विधि!!

30 अप्रैल-2016

  • मेथी को घर पर उगाने की विधि

    मेथी को आसानी से घर की बगिया में भी उगाया जा सकता है. बल्कि मेरा अनुभव है की मेथी किसी भी और सब्जी के मुकाबले ज्यादा आसानी से बढती है. मेथी को आप रसोई में इस्तेमाल होने वाले मेथीदाने यानि की मसाले वाले सूखे मेथी के बीज मेथी को आप बगीचे में या फिर गमले में किसी भी चीज में उगाये यह बहुत जल्दी अंकुरित होती है.और पढ़ें...



Your Valuable Comments !!