शुचि की रसोई में आपका स्वागत है!

27-मई-2020

  • गाजर और मिर्च का अचार

    गाजर और मिर्च का अचार

    गाजर और मिर्च का अचार स्वादिष्ट और चटपट बनने वाला अचार है जिसके लिए आपको बहुत ही कम मसलों कि जरूरत जो आमतौर पर सभी भारतीय घरों में इस्तेमाल होते हैं. इस अचार का आईडिया मुझे एक रेस्टोरेंट से मिला. कुछ समय पहले हमने शिकागो शहर में एक भारतीय रेस्टोरेंट में भरवाँ पराठे के साथ इसे खाया था. खाने में यह आचार बहुत स्वादिष्ट और अचार से ज्यादा सलाद के जैसा लग रहा था.....आगे पढ़ें ..

वैष्णव खाना

बिना प्याज लहसुन का खाना वैष्णव भोजन/खाना कहलाता है। कुछ जगहों पर इसे स्वामीनारायण भोजन भी कहते हैं। पूजा-पाठ और भगवन के खाने में विशेष रूप से प्याज लहसुन का प्रयोग किया जाता है। तीज- त्योहारों में और कई बार पार्टियों में भी ऐसा खाना बनाया जाता है, और ख़ास तौर पर व्रत के दिनों में भी।

हालांकि पौराणिक ग्रंथों में ऐसा लिखा है कि लहसुन अमृत तुल्य है (लहसुन का वर्णन देवासुर संग्राम के दौरान आता है - कहानी ये है कि जब समुद्र मंथन के बाद अमृत निकला तो राहु ने चुपके से उसे पीना चाहा। तब विष्णु जी ने उसका गला काट दिया। इस दौरान कुछ अमृत की बूँदें पृथ्वी पर छिटक गयीं, और उनसे बना लहसुन !) आयुर्वेद में भी लहसुन का कई जगह वर्णन है। लहसुन को बहुउपयोगी रसायन बताया गया है और इसके प्रयोग को उत्तम स्वास्थ्य हेतु आवश्यक बताया गया है।

तो मुझे प्याज लहसुन न खाने का जो कारण सबसे सटीक लगता है वो शायद इनकी महक का बहुत तेज होना है। तो शायद सल्फर की वजह से ही बहुत सारे शाकाहारी लोग प्याज लहसुन नहीं खाते हैं।

शुभकामनाओं के साथ
शुचि


  •  samosa chaat

    समोसा चाट

    समोसे की प्रसिद्धि देश-विदेश तक है. पारंपरिक मसालेदार आलू भर कर बनाए गये समोसे इस हद तक प्रसिद्द है कि बॉलीवुड के गाने भी इस पर बन गए जैसे जब तक समोसे में आलू रहेगा... समोसा चाट उत्तर भारत की बहुत प्रसिद्द चाट है.इसको बनाने के लिए हम छोले के साथ समोसे को सर्व करते हैं और इसके ऊपर धनिया की चटनी, मीठी चटनी, दही आदि से इसे सजाकर परोसते हैं. आगे पढ़ें ...



  •  turmeric

    हल्दी के फायदे | गुणकारी हल्दी

    हल्दी गुणों का खजाना है. हल्दी को संस्कृत में हरिद्रा कहते हैं. यह अदरक के परिवार जिंजीबेरेसी (Zingiberaceae) की सदस्य है. हल्दी का वानस्पतिक नाम Curcuma longa (कुरकुमा लोंगा) है. ... हल्दी कंद है जिसे बड़ी आसानी से घर पर उगाया जा सकता है. हल्दी का पौधा बहुवार्षिक होता है, यह गर्मी की फसल है लेकिन इसे तेज धूप पसंद नहीं है. हल्दी के पत्ते, तना और कंद सभी का प्रयोग खाने और औषधी बनाने में किया जाता है. नीचे लगी फोटो में हमारे घर पर उगाई गयी हल्दी के पौधे की कुछ अवस्थाएं दिखाई गयी हैं. हम हल्दी के पत्तों, तने और कंद सभी का उपयोग खाने में करते हैं.आगे पढ़ें ..

डायबिटीज के लिए कुछ खास स्वादिष्ट और पौष्टिक व्यंजन | स्वास्थ्यवर्धक खाना मधुमेह के लिए

प्रिय पाठकों,

अक्सर हमारे पाठकगण पूछते हैं कि मधुमेह बीमारी से ग्रसित लोग कैसे अच्छे, स्वादिष्ट और स्वास्थ्यवर्धक व्यंजन बना सकते हैं. हमने मेल के ज़रिए आपको कई बार अलग से भी इसकी जानकारी दी है लेकिन इस बार क्योंकि कई सारी फरमाइश एक साथ आ गयी हैं तो हमने सोचा कि बेहतर होगा अगर विस्तार से इसके बारे में वेबसाइट पर लिखा जाए.

मधुमेह यानि कि डायबिटीज (diabetes) क्या है- जब किसी भी इन्सान के खून में शक्कर की मात्रा निर्धारित मापदंड से ज्यादा हो जाती है तो उसे डायबिटिक यानि कि मधुमेह बीमारी से ग्रसित कहा जाता है. अब सवाल यह है कि यह निर्धारित मात्रा क्या है ?यह मापदंड समय समय पर बदलता रहता है. मैं डॉक्टर नहीं हूँ तो इस विषय में आप अपने डॉक्टर के साथ बात करें. हाँ जब एक बार किसी को मधुमेह हो गया तो क्या करा जाये? जितना मैंने पढ़ा है और अपने परिजनों को इस बीमारी से ग्रसित होने के बाद अनुभव किया है उसके अनुसार मैं यह लेख यहाँ पर लिख रही हूँ. सबसे अच्छा यही है कि मधुमेह को खानपान और नियमित कसरत, योग, ध्यान इत्यादि से ही काबू में रखा जाये तो सबसे अच्छा है. मधुमेह की बीमारी अगर बढ़ जाती है तो यह पूरे शरीर को खोखला करना शुरू कर देती है. मैंने परिवार और दोस्तों में कई लोगों को इस बीमारी को भोगते हुए देखा है. मैं सबको यही सलाह देती हूँ कि खानपान में सुधार कीजिये और नियमित रूप से शारीरिक श्रम कीजिये.

नयी व्यंजन विधियाँ ईमेल पर पाने के लिए क्लिक कीजिये!



Your Valuable Comments !!