गुझिया

साझा करें
See this recipe in English

गुझिया एक बहुत पारंपरिक भारतीय मिठाई है जिसे खासतौर पर होली और दिवाली के अवसर पर जरूर बनाया जाता है. गुझिया को मैदे के खोल में खोए, मेवे और शक्कर की भरावन भर कर फिर उसे शुद्ध देशी घी में तल कर बनाया जाता है. गुझिया बनाना एक कला है और इसको बनाने के लिए धीरज की ज़रूरत होती है, वैसे गुझिया बनाना कठिन नही है लेकिन इसको बनने में समय लगता है. गुझिया को और पकवानों के जैसे ही धीमी आंच पर तला जाता है जिससे यह अन्दर तक अच्छे से पक सके.

गुझिया या इसके जैसी ही बन्ने वाली मिठाई पूरे भारतवर्ष में बनायीं जाती है. गुझिया गुजरात में घुघरा, बिकार में पुरुकिया, महाराष्ट्र में करंजी और दक्षिण भारत में कज्जिकाया नाम से भी जानी जाती हैं. मूल विधि में प्रदेश के अनुसार कुछ फर्क हो सकता है. गुझिया के जैसे ही एक और चाँद के शेप कि एक और मिठाई है चन्द्रकला जो उत्तर भारत में बहुत प्रसिद्द हैं. आप गुझिया को बनाने के बाद इसे चाशनी में पाग भी सकते हैं. गुझिया बहुत ही स्वादिष्ट मिठाई है लेकिन इसमें भरपूर कैलोरी होती हैं तो खाने के साथ सेहत का भी ख्याल रखिये. इस बार दीपावली पर बनायें स्वादिष्ट खोए की गुझिया और हमें अपनी राय और सुझाव जरूर लिखें. दिवाली कि शुभकामनाओं के साथ , शुचि

gughiya
तैयारी का समय : 20 मिनट
पकाने का समय : 45 मिनट
लगभग 150 कैलोरी हर गुझिया में

सामग्री गुझिया की बाहरी परत के लिए (20-22 गुझिया के लिए)

  • मैदा 1 ½ कप
  • घी 4 बड़ा चम्मच
  • पानी आटा गूथने के लिए

सामग्री भरावन के लिए

  • खोया/मावा 250 ग्राम
  • चिरौंजी 2 बड़े चम्मच
  • नारियल का बुरादा ¼ कप/ 50 ग्राम
  • बादाम 2 बड़े चम्मच
  • हरी इलायची 5-6
  • शक्कर 200 ग्राम/ ¾ कप

कुछ और ज़रूरी चीज़ें

  • घी तलने के लिए
  • मैदा का घोल- 1 बड़े चम्मच में 2 बड़े चम्मच पानी डालिए और अच्छे से मिलाइए

भरावन बनाने की विधि :

  1. बादाम को महीन- महीन काट लें या फिर ग्राइंडर में दरदरा पीस लें.
  2. हरी इलायची का बाहरी छिलका निकालें और दानों को दरदरा कूट लें.
  3. एक कड़ाही में मध्यम आँच पर घी में नारियल का बुरादा (घिसा/ कद्दूकस करा नारियल डालें और एक मिनट भूनें.
  4. अब खोया/ मावा डालें और दो मिनट के लिए भूने. आँच बंद कर दें और खोए को ठंडा होने दें.
khoya frying
खोया/ मावा भूनना
  1. जब खोया हल्का गुनगुना गरम हो तो उसमें शक्कर, कटे बादाम, इलायची, और चिरौज़ी डालें और अच्छी तरह से खोए में मिलाएँ.
filling for gughiya
खोए की तैयार भरावन

गुझिया की बाहरी परत के लिए

  1. एक परात/ कटोरे में मैदा, और गरम घी लें. घी को मैदे में अच्छे से मिला हथेली में रगड़ें. मिलाने के बाद आप देखेगें की मोयन की वजह से मुट्ठी में भरने पर मैदा का लड्डू जैसा बँध जाता है. यह इस बात कि पहचान है कि मोयन ( घी/ तेल) एकदम ठीक मात्रा में है.
 gughiya dough making
मैदा और घी
  1. अब थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए मध्यम कड़ा आटा गूँथ लें. गुथे आटे को गीले कपड़े से ढककर 10 मिनट के लिए ढककर रखें.
 gughiya dough
गुझिया का गुथा आटा
  1. अब 1 बड़े चम्मच मैदा में बड़े चम्मच पानी डालिए और अच्छे से मिलाइए . मैदा का यह घोल हम गुझिया को बाँदा करने में इस्तेमाल करेंगें.
  2. 10 मिनट के बाद आप देखेंगें कि आटा काफ़ी चिकना हो जाता है. अब इसको 20 बराबर भागों में बाट लें.
  3. अब एक लोई लें और उसको लगभग 2-2½ इंच की गोलाई में बेल लें.
  4. अब एक बिली हुई लोई के बीच में 1 बड़ा चम्मच खोया की भरावन रखें. अब इसके आधे हिस्से में उंगली से मैदा का पेस्ट लगाएँ और दोनों साइड्स को पास लाकर दबाकर इसे बंद कर दें.
  5. अगर आप चाहें तो इसे बंद करने के बाद गुझिया के साँचे में रखकर किनारे पर डिज़ाइन बना लें या फिर कटे किनारे वाली चम्मच से डिज़ाइन बनाएँ. आप तर्जनी ऊँगली और उंगली से गोठ कर कंगूरे भी बना सकते हैं.नीचे लगी फोटो में गुझिया को पास्ता के सांचे में शेप देना दिखाया गया है.
gughiya making in pasta mold
गुझिया को पास्ता बनाने के सांचे में सील करना
  1. इसी प्रकार से सभी गुझिया भरकर बना लें. लोई, बिली लोई, और भरी हुई गुझिया को गीले कपड़े से ढककर रखें जिससे कि यह सूखे नही.
gughiya making
आटे की लोई, बिली हुई लोई और मावा भरी गुझिया
  1. अब एक कड़ाही में धीमी आँच पर घी गरम करें . अब इसमें हल्के से गुझिया डालें. यह आपकी कड़ाही के आकर पर निर्भर करता है कि आप कितनी गुझिया एक बार में तल सकते है. गुझियोंं को घी में डालने के लगभग 3-4 मिनट बाद उनको घी में आहिस्ता से पलटें.
  2. गुझियों को गुलाबी- लाल होने तक तलें. इस प्रक्रिया में कुल मिलाकर 15-20 मिनट का समय लगता है.
gujhiya frying
  1. तली गुझिया को किचन पेपर पर निकाल लें. स्वादिष्ट गुझिया अब तैयार है परोसने के लिए. आप गुझिया को 2 हफ्ते तक रख सकते हैं एअर टाइट कंटेनर में.
gughiya

कुछ नुस्खे और सुझाव

  1. गुझिया बनाना एक कला है और इसमें थोड़ा समय लगता है. तो आप गुझिया थोड़ी फ़ुर्सत से बनाएँ.
  2. हमने गुझिया को देशी घी में टला है लेकिन आप इसे रिफाइंड तेल में भी ताल सकते हैं.
  3. गुझिया में मावा भरने के बाद इसके किनारों को ध्यान से दबा कर सील करें. अगर किनारे बंद नहीं होंगे तो गुझिया घी में खुल सकती है जिससे पूरा घी ख़राब हो जायेगा.
  4. गुझिया के किनारे आप हाथ से गोंठ कर सील कर सकते हैं या फिर गुझिया के सांचे में भी इसे बनाया जा सकता है. अगर आप विदेश में रहते हैं और कुछ भी न मिले तो आप गुझिया को पास्ता बनाने के सांचे में भी दबा कर शेप डे सकते हैं.
  5. मैने इस विधि के लिए घर पर ही खोया बनाया है. इस विधि के लिए आप 1½ लीटर दूध को उबालें. पहले उबाल के बाद आँच को धीमा करके दूध को 40-50 मिनट पकने दें. बीच-बीच में दूध को चलाना ना भूलें. जब दूध एकदम गाढ़ा हो जाए तो बराबर चलाते हुए दूध के सूखने तक भूनें. 1 लीटर फुल क्रीम दूध से लगभग 175 ग्राम (2/3 कप) खोया बनता है और इस प्रक्रिया में लगभग 1 घंटे का समय लगता है.

कुछ और मिठाइयाँ