कढ़ी पकौड़ी

साझा करें
See this recipe in English

कढ़ी से तो आप सभी परिचित होंगें. कढ़ी को खट्टे दही और बेसन से बनाया जाता है. वैसे तो कढ़ी संपूर्ण भारत में जानी जाती है लेकिन यह ख़ासतौर पर उत्तर और पाश्चिम भारत की बहुत ही लोकप्रिय डिश है. कढ़ी कई प्रकार कि होती है जैसे कि पकौड़ी वाली कढ़ी, मगौंडी की कढ़ी, सिंधी कढ़ी, राजस्थानी कढ़ी, गुजराती कढ़ी इत्यादि-इत्यादि. आज हम यहाँ पकौड़ी वाली कढ़ी बनाना बता रहे हैं. इस कढ़ी को आप चावल के साथ परोसें और साथ में कचूमर सलाद और पपद हो तो कहना ही क्या. कढ़ी चावल उत्तर भर्ट में बहुत प्रसिद्ध कोम्बो है. नैनीताल से थोड़ी दूर पर एक जगह है जिसका नाम नौकुचियाताल है, वहाँ पर कढ़ी चावल हर छोटे बड़े रेस्टोरेंट में मिलते हैं.. तो आप भी बनाइए यह स्वादिष्ट पकौड़ी वाली कढ़ी और हमेशा की तरह अपने सुझाव और अपनी राय जरूर लिखें. शुचि
kadhi-chawal

पकौड़ी के लिए सामग्री (4 लोगों के लिए)

  • बेसन 1 कप
  • पानी
  • तेल तलने के लिए

झोल के लिए सामग्री

  • बेसन 1/3 कप
  • खट्टा दही 1 कप
  • हल्दी पाउडर ½ छोटा चम्मच
  • नमक 1¼ छोटा चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर ½ छोटा चम्मच
  • जीरा ½ छोटा चम्मच
  • मेथीदाना ½ छोटा चम्मच
  • राई/ सरसों ½ छोटा चम्मच
  • हींग 2 चुटकी
  • खड़ी लाल मिर्च 1-2
  • पानी लगभग 4-5 कप
  • तेल/ घी 1 बड़ा चम्मच

तड़के के लिए सामग्री

  • घी 2 बड़ा चम्मच
  • हरी मिर्च 2, बारीक कटी
  • लाल मिर्च पाउडर ¼ छोटा चम्मच

पकौड़ी बनाने की विधि

  1. कटोरे में बेसन को अच्छे से छान लें. अब थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए पकोड़े का घोल तैयार करिए. यह घोल ना तो अधिक पतला हो और ना ही बहुत गाढ़ा. इस घोल को अच्छे से एक दिशा में तब तक फेटें जब तक कि घोल एकदम हल्का ना हो जाए. बेसन को फेटने में तकरीबन 3-4 मिनट का समय लगता है.
  2. बेसन अच्छे से फिट गया है यह जाँचने के लिए एक कप में पानी भरें अब इसमें एक बूँद बेसन के घोल की डालें, अगर यह बूँद तुरंत पानी में ऊपर आ जाती है तो इसका मतलब है कि बेसन फिट गया है.
  3. अब एक कड़ाही मीं तेल गरम करें. जब तेल गरम हो जाए तो इसमें 1 छोटा चम्मच घोल डालें. इसी तरह से 7-8 पकौड़ी तेल में डाले. आप चाहें तो हाथ से भी डाल सकते हैं पकौड़ियाँ. मध्यम तेज आँच पर लगभग 4-5 मिनट लगता है पकौड़ी को तलने मैं. पकौड़ी को किचन पेपर पर निकाल लें.
  4. बचे हुए घोल से इसी प्रकार और पकौड़ी बना लें.
 pakaudi kadhi
  1. एक बड़े कटोरे में 2-3 कप गरम पानी लें. इसमें 1 छोटा चम्मच नमक डालें. तली पकौड़ियों को गरम पानी में 5 मिनट के लिए भिगोये.
  2. पाँच मिनट के बाद पकौड़ियों को हल्के हाथों से दबा कर पानी निकल दें और अलग रखें.

झोल बनाने की विधि

  1. एक कटोरे में बेसन को छान लें. अब इसमें नमक, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर डालें और थोड़ा थोड़ा पानी डालते हुए मिलाते जाएँ. इसमें तकरीबन दो कप पानी डालें. ध्यान रखें कि घोल में बेसन की गुठली ना पड़ने पाए.
  2. खट्टे दही को अच्छे से फेटें. अब इसमें तकरीबन 2 कप पानी मिलाएँ.
  3. एक कड़ाही में मध्यम आँच पर तेल गरम करे. अब इसमें जीरा, मेथीदाना, और राई डालें. जब मसाले अच्छे से तड़क जाएँ तो इसमें हींग और खड़ी लाल मिर्च डालें. कुछ सेकेंड्स भूनें और फिर बेसन का घोल और खट्टे दही का घोल डालें. अच्छे से तब तक चलाते रहें जबतक कि एक उबाल नही आ जाता है. उबाल आने में लगभग 5 मिनट का समय लगता है.
  4. पहले उबाल के बाद आँच को धीमा कर दें और कढ़ी को 7-8 मिनट के लिए पकने दें. अगर आपको लगता है की कढ़ी का झोल बहुत गाढ़ा है तो थोड़ा और पानी मिलाइए, और फिर पकाइए.
  5. अब पहले भीगी पकौड़ी को इस झोल में डालिए और हल्के हाथ से मिलाइए. ध्यान रखिए कि पकौड़ी फटने ना पाए. पकौड़ियाँ झाओल में ऊपर तैरने लगेंगी. इसको 3-4 मिनट के लिए पकने दीजिए.
  6. स्वादिष्ट कढ़ी अब तैयार है.
kadhi pakaudi

तड़का बनाने के लिए

सर्व करने के समय एक तड़का पैन में घी गरम करें, इसमें कटी हरी मिर्च, और पिसी लाल मिर्च डालें. कुछ सेकेंड्स भून कर आँच बंद कर दें और इसको कढ़ी के ऊपर डालें. अब सर्व करिए सर्व करने के समय एक तड़का पैन में घी गरम करें, इसमें कटी हरी मिर्च डालें. कुछ सेकेंड्स भूनें और आँच बंद कर दें. अब इसमें पिसी लाल मिर्च डालें. तड़के को कढ़ी के ऊपर डालें. स्वादिष्ट कढ़ी पकौड़ी को आप चावल के साथ परोसें. आप इसके साथ रोटी, कचूमर सलाद और पापड़ भी सर्व कर सकते हैं.

kadhi-chawal

कुछ नुस्खे और सुझाव:

  1. Make sure that besan batter is whisked well. The batter should be light. If the batter is light then only the pakaudis (fried balls) will be light.
  2. Make sure that yogurt is sour. To make regular yogurt sour, add some salt in the yogurt and leave it at room temperature for 24 hours.
  3. The about of chili can be increased or decreased as per taste.
kadhi-chawal

कुछ और स्वादिष्ट कढ़ी:

कुछ और दालें छोले...