साझा करें
See this recipe in English

बाजरे की मीठी पूरी

बाजरे को बहुत पौष्टिक अनाज माना जाता है. बाजरे में प्रोटीन, कारबोहाइड्रेट और रेशे बहुतायत में होते हैं. बाजरा आमतौर पर गरम देशों में उगाया जाता है. भारत में बाजरा बहुत उगाया जाता है और इसका प्रयोग जाड़े़ के मौसम में अधिक किया जाता है क्योंकि इसकी तासीर गरम होती है और यह शरीर को उर्जा प्रदान करता है. आजकल दुनिया भर में बाजरा बहुत ज़्यादा उपयोग किया जाता है क्योंकि बाजरे में ग्लूटन नही होता है. ग्लूटन एलर्जी में जब डॉक्टर गेहूँ खाने को मना करते हैं तब बाजरा एक अच्छा विकल्प होता है.

भारत में जाड़े़ के मौसम में बाजरे से कई प्रकार के व्यंजन बनाए जाते हैं. यहाँ हम आपको हमारे बचपन की एक मिठाई के बारे में बता रहे हैं. बाजरे की मीठी पूरी बनlने की यह विधि मेरी मम्मी की है. जब हम छोटे थे तब हमारी मम्मी ढेर सारी मीठी पूरी बनाकर रखती थीं कड़कड़ाती सर्दी में, स्वास्थ्य को ठीक रखने के लिए. इसमें सफेट तिल का भी प्रयोग किया जाता है स्वाद और सेहत को बढ़lने के लिए. आप इन पूरियों को घी में या फिर तेल में भी तल सकते हैं. आशा है यह विधि आपको पसंद आए. तो आप भी आजमाएँ यह विधि और हमेशा की तरह अपनी राय हमें ज़रूर लिखें. शुभकामनाओं के साथ, शुचि


bajre ki meethi poori
सामग्री
(16 छोटी मीठी पूरी के लिए)
  • गुड 1/3 कप, गुड के छोटे टुकड़ों में तोड़ लें
  • पानी लगभग 4 बड़े चम्मच/ 60 मिलीलीटर
  • बाजरे का आटा 1 कप + 2 बड़े चम्मच
  • सफेद तिल 2 बड़े चम्मच
  • घी/ तेल तलने के लिए

बनाने की विधि :

  1. गुड को पानी में अच्छे से घोल लें.
ingredients for bajre ki meethi poori
बाजरे का आटा, पानी में घुला हुआ गुड और सफेद तिल
  1. एक कटोरे/ परात में बाजरे का आटा और सफेद तिललें. इन्हे अच्छे से मिलाएँ.
  2. अब इसमें गुड का पानी डालें और आटा गूथे. अगर आता ढीला है तो ज़रा सा सूखा बाजरे का आता डालें. इस विधि के लिए हमें मध्यम कड़ा आटा चाहिए.
  3. Add gud soaked water in the bajre ka aata and make semi stiff dough. If the dough is too soft add a little bit of more bajre ka aata.
  4. आटे को एक मिनट के लिए गूथे और चिकना करें.
dough for meethi poori
बाजरे का आटा
  1. इस आटे को 16 बराबर भागों में बाटें और एक गीले कपड़े से ढकें जिससे यह सूखे नही.
dough for meethi poori
बाजरे के आटे की लो मीठी पूरी के लिए
  1. एक कड़ाही में घी / तेल गरम करें पूड़ी तलने के लिए.
  2. अब एक लोई लें और इसे डेढ़ इंच के गोले में बेलें. मैं तो बाजरे की लो को हथेली से दबा कर बेल लेती हूँ. लेकिन आपको जो ज़्यादा आसान लगे आप वैसे करें.
  3. अब इस पूरी को गरम गीयी में डालें और हल्के से कलछी से दबाएँ. पूड़ी को दोनों तरफ से लाल होने तक मध्यम आँच पर तलें.
  4. आप इस तली पूड़ी को किचन पेपर पर निकाल लें.
  5. इसी तरह से सभी पूड़ियों को बना लें.
  6. स्वादिष्ट बाजरे की मीठी पूरी अब तैयार हैं.
  7. आप इन पूड़ियों को एक हफ्ते तह स्टोर कर सकते हैं बिना फ्रिज के.
dough for meethi poori

कुछ नुस्खे / सुझाव :

  1. बाजरे की लोई को गीले कपड़े से ढककर कर रखें जिससे यह सूखे नही.
  2. आप बाजरे की पूड़ी को ज़रा सा चिकनाई लगा कर बेलन से बेल सकते हैं यह फिर इसे हाथ हे बीच में दबा कर भी तैयार कर सकते हैं.
  3. अगर आप पहले बार बाजरे की पूरी बना रहे हैं तो मैं यह बता डून कि इसे बेलने में थोड़ी दिक्कत होती है क्योंकि यह टूटती है. दो तीन बार कोशिश करने के बाद आपको ईडिया लग जाएगा फिर इसे बनाना आसान हो जाएगा.

कुछ और तिल की मिठाई

tilkuta alsi ke laddoo tiltwist

            तिलकुट                                     अलसी के लड्डू                              तिल के रोल्स

कुछ और मिठाइयाँ